आईपीएस (IPS) अधिकारी Kaise Bane | योग्यता, तैयारी, कार्य और सैलरी


IPS (Indian Police Service) यानि भारतीय पुलिस सेवा की पोस्ट भारतीय पुलिस में एक उच्च पद होता है। आईपीएस बनने के लिए आपको UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) द्वारा आयोजित सिविल सर्विस एग्जाम देना होता है, जिसके लिए आपको दिन-रात कड़ी मेहनत करनी होती है। अगर आपका भी सपना IPS बनने का है, तो उसके लिए आपको IPS Kaise Bane से जुड़ी पूरी जानकारी जैसे- 10 वीं के बाद आईपीएस की तैयारी कैसे करें, आईपीएस बनने के लिए योग्यता क्या होती है व आईपीएस फुल फॉर्म इन हिंदी क्या है यह सभी जानकारी होना चाहिए।

आईपीएस की पोस्ट IAS (भारतीय प्रशासनिक सेवा) के बाद सबसे प्रतिष्ठित पोस्ट होती है जिनका कार्य केवल राज्य या केंद्र तक ही सीमित नहीं होता, बल्कि ये दोनों स्तर पर कार्य करते है। हालाँकि IAS, IRS, IFS और आईपीएस के लिए योग्यता, परीक्षा एवं आवेदन प्रक्रिया बिलकुल एक समान है। जिन भी उम्मीदवारों का सपना आईपीएस अधिकारी (IPS Officer) बनने का है तो ये लेख मैं उन्ही स्टूडेंट्स के लिए लेकर आया है जो यह जानना चाहते है कि IPS Officer Kaise Bane या IPS Ki Taiyari Kaise Karen? तो पूरी जानकारी पाने के लिए बने रहे हमारे साथ अंत तक।

IPS Kya Hai

भारतीय पुलिस सेवा (Indian Police Service) यानि IPS भारत सरकार की तीन अखिल भारतीय सेवाओं IRAS (इंडियन रेलवे अकाउंट सर्विस), IAS (इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस), IFS (इंडियन फॉरेस्ट सर्विस) में से एक है। IPS का गठन वर्ष 1948 में हुआ था। IPS के लिए कैडर कंट्रोलिंग अथॉरिटी गृह मंत्रालय के पास होती है। एक आईपीएस ऑफिसर को केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों द्वारा नियोजित किया जा सकता है।

IPS Full Form in Hindi

IPS का फुल फॉर्म “Indian Police Service” होता है जिसे हिंदी में “भारतीय पुलिस सेवा” के नाम से जाना जाता है। IPS Full Form In Marathi “भारतीय पोलीस सेवा” होता है।

आईपीएस की परीक्षा भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है, अगर आईपीएस बनना आपका भी सपना है तो आप 10 वीं के बाद से ही आईपीएस की तैयारी करना शुरु कर दीजिये।

यह भी जानें: Sub Inspector (SI) कैसे बने की पूरी जानकारी।

IPS Ke Liye Qualification

आईपीएस परीक्षा में भाग लेने के उम्मीदवार को मांगी गयी सभी अनिवार्य योग्यताओं को पूरा करना होगा जैसे-  IPS बनने के लिए योग्यता, आयुसीमा, राष्ट्रीयता, फिजिकल मापदंड आदि, जो कि आपको निचे बताये गए है।

एजुकेशन क्वालिफिकेशन

सिविल सर्विस एग्जाम की आईपीएस परीक्षा में आवेदन करने के लिए आवेदक का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक (Graduation) होना चाहिए। पर जो स्टूडेंट्स अंतिम वर्ष के रिजल्ट का इंतज़ार कर रहे है वे भी इस परीक्षा में आवेदन करने के पात्र है।

राष्ट्रीयता

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए आवेदक का भारतीय नागरिक होना अनिवार्य है।

IPS के लिए आयु

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए न्यूनतम आयुसीमा 21 वर्ष और अधिकतम आयुसीमा 32 वर्ष है।

वर्ग आयु सीमा परीक्षा के प्रयास (Attempts)
General 21-32 साल 6 प्रयास
OBC 21-35 साल (+3 साल की राहत) 9 प्रयास
SC/ST 21-37 साल (+5 साल की राहत) कोई सीमा नहीं

शारीरिक मापदंड

कद (Height) – 

  • IPS Ke Liye Height for Man: जनरल कैंडिडेट के लिए, पुरुषों की हाइट कम से 165 सेमी (5 फुट 5 इंच) और एससी (SC)/ ओबीसी (OBC) कैंडिडेट के लिए, पुरुषों की लम्बाई कम से कम 160 सेमी (5 फुट 4 इंच) होनी चाहिए।
  • IPS Ke Liye Height for Girl: जनरल कैंडिडेट के लिए, स्त्रियों की हाइट कम से कम 150 सेमी (4 फुट 12 इंच) और एससी (SC)/ ओबीसी (OBC) कैंडिडेट के लिए, स्त्रियों की हाइट 145 सेमी (4 फुट 9 इंच) होनी चाहिए।

छाती (Chest) –

पुरुष उम्मीदवारों की छाती कम से कम 84 सेमी होनी चाहिए और महिला उम्मीदवार के लिए छाती 79 सेमी होनी चाहिए।

नेत्र दृष्टि (Eye Sight) –

स्वस्थ आंखों का विज़न 6/6 या 6/9 होना चाहिए और कमजोर आंखों का विज़न  6/12 या 6/9 होना चाहिए। द्विनेत्री दृष्टि आवश्यक है। आँखो पर दूर के नंबर -4.00D से ज़्यादा नहीं होने चाहिए और नज़दीक के नंबर +4.00D से ज़्यादा नहीं होने चाहिए।

IPS कैसे बने

1. 12वीं कक्षा किसी भी विषय के पास करें।

आईपीएस ऑफिसर बनने का सबसे पहला पड़ाव है अच्छे अंकों से 12वीं क्लास पास करना है। आप जिस भी विषय में इंटरेस्ट रखते है उस विषय से 12वीं कर सकते है।

2. अपना Graduation किसी भी स्ट्रीम से पूरा करें।

12वीं क्लास पूरी करने के बाद आपको किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से अपना स्नातक यानि ग्रेजुएशन पूरा करना होगा, क्योंकि बिना ग्रेजुएशन के आप यूपीएससी की सिविल सर्विस एग्जाम के लिए आवेदन नहीं कर सकते है। इसलिए अगर आपने अब तक अपना ग्रेजुएशन पूरा नहीं किया है तो सबसे पहले किसी भी स्ट्रीम (आर्ट्स, साइंस, कॉमर्स या मैथ्स) जिसमें आपकी रूचि है उससे अपना ग्रेजुएशन कम्पलीट करें।

3. UPSC की परीक्षा के लिए आवेदन करें।

अब यूपीएससी की ऑफिसियल वेबसाइट UPSC.Gov.In से आईपीएस परीक्षा के लिए ऑनलाइन वेबसाइट आवेदन करें। जैसा कि हमने आपको बताया कि आईपीएस की परीक्षा यूपीएससी द्वारा आयोजित होती हैं। UPSC द्वारा निर्धारित IPS Exam Pattern के आधार पर यह परीक्षा और पूरी चयन प्रक्रिया को तीन चरणों में विभाजित किया गया है।

  • प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  • मुख्य परीक्षा (Main Exam)
  • साक्षात्कार (Interview)

जो उम्मीदवार इन तीनों चरणों को पूरा कर लेता है उसे आईपीएस ऑफिसर के पद पर नियुक्त कर दिया जाता है।

4. UPSC की प्रीलिमिनरी परीक्षा पास करें।

प्रारंभिक परीक्षा आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए पहला चरण होता है तथा जिसे क्वालीफाइंग पेपर भी कहते है। यह जून से लेकर अगस्त माह के बीच में आयोजित की जाती है। इसमे सारे प्रश्न Objective टाइप के होते है यानि हर प्रश्न के उत्तर के लिए 4 विकल्प दिए होते है। इसमे 2 पेपर होते है जो कि 200-200 अंक के होते है। इसलिए यह कुल 400 अंकों की परीक्षा है। इसमे Negative Marking भी होती है। इसके प्रश्न-पत्र हिन्दी और अंग्रेज़ी दोनों भाषा में होते है। यह परीक्षा क्लियर करने के बाद ही आप आईपीएस कि मुख्य परीक्षा में बैठ सकते है।

5. अब मेन एग्जाम को क्लियर करें।

मेन एग्जाम में कुल 9 पेपर होते है जो कि डिस्क्रिप्टिव टाइप के होते है। इसमें 7 पेपर मेरिट के होते है और 2 भाषा के होते है। इसमें 2 तरह के प्रश्न होते है डिस्क्रिप्टिव/निबंध पेपर और ऑप्शनल पेपर। यह दोनों परीक्षा क्लियर करने के बाद ही उम्मीदवार को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है।

6. इंटरव्यू को क्लियर करें।

यह आईपीएस ऑफिसर बनने का अंतिम चरण होता है। इसमें यूपीएससी के प्रतिष्ठित अधिकारीयों द्वारा आमंत्रित कैंडिडेट्स का इंटरव्यू लिया जाता है। इस साक्षात्कार के 275 अंक होते है। यह लगभग आधे घंटे से 45 मिनट तक चलता हैं। इसमे कैंडिडेट का आत्मविश्वास, खुद को प्रस्तुत करने की क्षमता, विचार, व्यक्तित्व, रवैया आदि को परखा जाता है।

7. अब अंत में IPS की ट्रेनिंग पूरी करें।

इन तीनों चरणों को क्लियर करने के बाद ही उम्मीदवार को आईपीएस की ट्रेनिंग के लिए योग्य माना जाता है। आईपीएस की ट्रेनिंग तीन साल की होती है जिसमें प्रशासन और पुलिसिंग के हर छोटी से लेकर बड़ी चीजों के बारे में सिखाया जाता है। उन तीन सालों के बाद उम्मीदवार को IPS का पद पर नियुक्त कर दिया जाता है और पद के लिए शपथ दिलवाई जाती है।

यह भी जानें: NDA Kya Hai? – जानिए एनडीए से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी

IPS Exam Syllabus in Hindi

IPS प्रीलिमिनरी एग्जाम पैटर्न & सिलेबस:

प्रीलिमिनरी एग्जाम में 200-200 अंकों के कुल दो पेपर होते है जिनकों हल करने के लिए 2-2 घंटे का समय दिया जाता है। दोनों पेपर ऑब्जेक्टिव टाइप के होते है जो कि मेन एग्जाम के लिए क्वालीफाइंग पेपर होते है।

प्रारम्भिक परीक्षा पेपर-1 (General Studies) प्रारम्भिक परीक्षा पेपर-2 (CSAT General Studies)
वर्तमान देश-विदेश की घटनाएँ Comprehension
भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन का इतिहास पारस्परिक और संचार कौशल
भारतीय और विश्व भूगोल तार्किक और विश्लेषात्मक कौशल (Logical and Analytical Skills)
आर्थिक और सामाजिक विकास सामान्य मानसिक क्षमता
राज-व्यवस्था और शासन निर्णय शक्ति और समस्या सुलझाने की क्षमता
पर्यावरण की वर्तमान गतिविधियाँ सामान्य गणित (दसवीं कक्षा तक का)

IPS मेन एग्जाम पैटर्न & सिलेबस:

आईपीएस की मुख्य परीक्षा में जो कुल 9 पेपर में से 2 भाषा के पेपर होते है। उसमे से एक आपके द्वारा चुनी हुई भाषा का होता है और दूसरा अंग्रेज़ी का होता है और दोनों ही पेपर 300 अंक के होते है। बाकी के 7 पेपर General Studies के होते है जिसमे से आखरी दो पेपर आपके चुने गए मुख्य विषय के होते है। इस परीक्षा में निबंध लेखन का महत्व होता है।

पेपर अधिकतम अंक
1 सामान्य निबंध प्रकार का पेपर 200 अंक
1 निबंध प्रकार का भारतीय भाषा क्वालीफाइंग पेपर 300 अंक
1 अंग्रेजी क्वालिफाइंग पेपर 300 अंक
2 सामान्य अध्ययन पत्र 300 अंक
4 वैकल्पिक विषय का पेपर 300 अंक

जरूर पढ़े: PCS ऑफिसर कैसे बने की पूरी जानकारी हिंदी में।

IPS ऑफिसर की सैलरी कितनी होती है

एक आईपीएस सैलरी या IPS अधिकारी का मूल वेतन प्रति माह 56,100 रुपये (TA, DA और HRA अतिरिक्त) से शुरू होता है और एक DGP के लिए 2,25,000 रुपये तक पहुंच सकता है। एक आईपीएस ऑफिसर की सैलरी उसके पद के हिसाब से अलग-अलग होती है। किस पद के लिए कितना वेतन दिया जाता है इसका अंदाजा आप निचे दी गयी टेबल के माध्यम से लगा सकते है।

राज्य/केंद्रीय पुलिस बल में IPS की रैंक IPS सैलरी – 7 वां वेतन आयोग वेतनमान के अनुसार
Director General of Police/ Director of IB or CBI 2,25,000 ₹
Director General of Police 2,05,400 ₹
Inspector General of Police 1,44,200 ₹
Deputy Inspector General of Police 1,31,100 ₹
Senior Superintendent of Police 78,800 ₹
Additional Superintendent of Police 67,700 ₹
Deputy Superintendent of Police 56,100 ₹

आईपीएस की तैयारी कैसे करें

आईपीएस की तैयारी करने के लिए आपको इन बातों का ध्यान रखना ज़रूरी है-

  • सबसे पहले अपने मनपसंद विषय से स्नातक की पढ़ाई पूरी करें। आईपीएस परीक्षा के लिए आपका Graduate होना ज़रूरी है।
  • आईपीएस की परीक्षा आप स्नातक के फाइनल ईयर में भी दे सकते है, मगर जॉइनिंग से पहले आपका ग्रेजुएट होना आवश्यक है।
  • UPSC परीक्षा में पास होने के लिए करंट अफेयर्स के बारे में आपको अच्छी जानकारी होनी चाहिए। करंट अफेयर्स की तैयारी के लिए आप रोज़ अखबार, मैगज़ीन, इंटरनेट, यूट्यूब इत्यादि की सहायता ले सकते है।
  • आपको एग्जाम पैटर्न और सिलेबस के हिसाब से UPSC परीक्षा के लिए तैयारी करनी है। इसलिए उसे अच्छे से समझकर अपना समय प्रत्येक विषय के लिए व्यवस्थित करें।
  • परीक्षा के पुराने प्रश्न पत्रों को सोल्व करें, इससे आपको आईडिया हो जायेगा की परीक्षा में कैसे सवाल पूछे जा सकते हैं।
  • Mock Tests लगाए, इससे आपकी Answer Writing की प्रैक्टिस भी होती रहेगी और आपकी सोचने और लिखने की स्पीड भी बढ़ेगी।
  • हर विषय को Revise ज़रूर करें। इससे आपको टॉपिक्स याद रखने में सहायता मिलेगी।

आईपीएस ऑफिसर के कार्य

  • आईपीएस अधिकारी का मुख्य कार्य क्षेत्र में कानून व्यवस्था को बनाये रखना होता है।
  • अपराधियों को अपराध करने से रोकना, नशीले पदार्थों की तस्करी और मानव तस्करी को रोकना, साइबर अपराधों का निरीक्षण करना, आदि आईपीएस अधिकारी का काम होता है।
  • इसके साथ ही क्षेत्र में सीमा सुरक्षा बनाए रखना, आतंकवाद गतिविधियों पर निगरानी रखना और ठोस कदम उठाना, गैरकानूनी कार्यों पर नज़र रखना भी आईपीएस अधिकारी का ही काम होता है।
  • अनुभवी आईपीएस अधिकारियों को IB (Intelligence Bureau), CBI, RAW (रॉ एजेंट कैसे बने) और अर्धसैनिक बल जैसे- BSF, CRPF (CRPF कैसे ज्वाइन करें), ITBP के नेतृत्व का कार्य भी दिया जाता है।

IPS ऑफिसर के लिए नौकरी की संभावनाएं

एक आईपीएस अधिकारी का कार्य केवल राज्य या केंद्र स्तर तक ही सीमित नहीं होता है, बल्कि ये सिविल सेवाओं के समूह ए के तहत पूरे देश में कानून और व्यवस्था बनाने व उनका रखरखाव को सुनिश्चित करते है। एक आईपीएस अधिकारी राज्य स्तर पर, पुलिस उपाधीक्षक (DSP) पद से अपनी सेवाएं शुरू कर सकते है और पुलिस महानिदेशक (DGP) तक जा सकते है, जो कि पुलिस विभाग में राज्य स्तर पर सबसे प्रतिष्ठित पद होता है।

Conclusion

तो दोस्तों ये थी आईपीएस कैसे बने की पूरी जानकारी (IPS Full Information in Hindi), जो आपको जरूर पसंद आयी होगी। आईपीएस ऑफिसर बनना शब्दों में कहने जितना आसान नहीं है, इसलिए अगर आपमें दृढ़-निश्चय और देश और समाज के लिए सेवा की भावना है तो आपके लिए कई हद तक यह आसान हो जाएगा। हमने इस क्षेत्र से जुड़े एक्सपर्ट्स से बात करके जितना भी जाना उन सभी IPS Ke Bare Mein Jankari को आप तक इस लेख के माध्यम पहुंचा दिया।

आईपीएस की परीक्षा (आई पी. एस पेपर) के लिए खूब मेहनत करिए और संयम रखिए, IPS Banne Ki Puri Jankari (IPS Information In Hindi) आपने इस पेज पर जान ली है जैसे- IPS Banne Ke Liye Kya Kare, IPS Ke Liye Konsi Degree Chahiye, IPS Qualification In Hindi और 10 वीं के बाद आईपीएस ऑफिसर कैसे बने आदि।

मैं आशा करता हूँ कि इस लेख ने आपको IPS Banne Ke Liye ज़रूर उत्साहित किया होगा। अगर इस लेख में आपके डॉट्स या क्वेरी हो तो आप कमेंट करके बता सकते है, मैं आपके सवालों के जवाब देने की पूरी कोशिश करूँगा।

IPS कैसे बने से जुड़े (FAQs)

  • क्या मैं 12वीं के बाद IPS ज्वाइन कर सकता हूँ?

जी नहीं! 12th बाद IPS ऑफिसर नहीं बना जा सकता, इसके लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से अपना ग्रेजुएशन पूरा करना होगा, उसके बाद ही आप UPSC द्वारा आयोजित CSE एग्जाम में शामिल हो सकते है।

  • क्या IPS परीक्षा कठिन है?

जी हाँ UPSC एग्जाम भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से पहले नंबर आती है जिसके लिए एक उम्मीदवार को औसतन 6-8 घंटे सेल्फ अध्ययन करना चाहिए। परीक्षा के सभी चरणों को पास करने वाले उम्मीदवार IAS, IPS, या IFS और अन्य सेवाओं में अधिकारी बन जाते है।

  • IPS अधिकारी की नियुक्ति कौन करता है?

IPS अधिकारियों की नियुक्ति या तो सिविल सेवा परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर की जाती है या राज्य कैडर के अधिकारियों से पदोन्नत होकर की जाती है।

  • हर साल भारत से कितने IPS चुने जाते है?

लगभग आठ लाख से अधिक उम्मीदवार हर साल आईपीएस परीक्षा के लिए आवेदन करते है, परन्तु उनमें से केवल 150 के आसपास अभ्यार्थियों को ही चुना जाता है।

  • IPS बनने के लिए 10 वीं में कौनसा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

आईपीएस बनने के लिए आपका किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविध्यालय से किसी भी स्ट्रीम में स्नातक की डिग्री होना अनिवार्य होता है। इसलिए आप अपने पसंद की किसी भी स्ट्रीम से पढाई कर सकते हैं और आईपीएस अधिकारी बन सकते हैं।

  • UPSC क्या है?

यूपीएससी (UPSC) यानी संघ लोक सेवा आयोग, पूरे भारत में सरकारी पदों पर भर्ती के लिए परीक्षा Conduct करवाती है। IPS, IAS, IFS, आदि सिविल सर्विस एग्जाम के लिए UPSC ज़िम्मेदार होती है।

  • आईपीएस हाइट एंड वेट जनरल कैंडिडेट के पुरुषों के लिए कितना होना चाहिए?

IPS बनने के लिए जनरल कैंडिडेट के पुरुषों की हाइट 165 सेमी यानी 5 फुट 5 इंच होनी चाहिए। वजन के लिए कोई निर्धारित सीमा नहीं है पर कैंडिडेट का फिजिकली फिट होना बहुत ज़रूरी है।

Leave a Comment