इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है और इंट्राडे ट्रेडिंग कैसे करें (Intraday Trading in Hindi)


इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है हिंदी में: आज के समय में ट्रेडिंग करने के लिए बहुत सारे एप्प मौजूद हैं जिनकी मदद से लोग आसानी से ट्रेडिंग कर सकते हैं. मोबाइल एप्प के द्वारा ट्रेडिंग करने के कारण भारत में भी ट्रेडिंग धीरे – धीरे लोकप्रिय होती जा रही है. ट्रेडिंग के द्वारा बहुत सारे लोग पैसे कमाकर अमीर बन रहे हैं.

लेकिन जो लोग ट्रेडिंग में अभी नए हैं या फिर ट्रेडिंग सीख रहें हैं तो उन्हें ट्रेडिंग के बारे में अधिक जानकारी नहीं होती है. ट्रेडिंग भी अनेक प्रकार के होती है जिसमें से एक सबसे लोकप्रिय ट्रेडिंग का प्रकार है Intraday Trading.

यदि आपको पैसे से पैसे कमाना है तो इंट्राडे ट्रेडिंग एक अच्छा विकल्प हो सकता है.

अगर जो लोग नहीं जानते हैं Intraday Trading क्या है, Intraday Trading किसमें की जाती है, Intraday Trading कैसे करें, Intraday Trading से पैसे कैसे कमाए और Intraday Trading के फायदे तथा नुकसान क्या है, नके लिए इस लेख से बहुत मदद मिलने वाली है.

इस लेख में आपको Intraday Trading के बारे में बहुत कुछ सीखने को मिलेगा और साथ में ही Intraday Trading करने के लिए कुछ जरुरी Tips भी आपको मिलेंगे, जो कि आपको इस लेख को अंत तक पढने से प्राप्त होंगे. तो चलिए बिना देरी के शुरू करते हैं इस लेख को और जानते हैं Intraday Trading क्या होता है.

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है (What is Intraday Trading in Hindi )

जैसा कि “शेयर बाजार में शेयर या स्टॉक्स को खरीदने और बेचने की प्रक्रिया को ट्रेडिंग कहते हैं.”

जब आप शेयर बाजार में एक दिन के अन्दर ही शेयर को खरीदते और बेचते हैं उसे Intraday Trading कहते हैं. Intraday Trading को आप शेयर बाजार के खुलने से लेकर बंद होने के बीच में कर सकते हैं.

इंट्राडे ट्रेडिंग टाइम: भारतीय शेयर बाजार सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 9:15 से लेकर दोपहर 3:30 तक खुला रहता है और सभी Holidays में बंद रहता है. अतः आप Intraday Trading सुबह 9:15 से लेकर दोपहर 3:15 बजे तक कर सकते हैं.

इंट्राडे ट्रेडिंग के नियम (Intraday Trading Rule in Hindi )

  • इंट्राडे ट्रेडिंग के अन्दर आपको शेयर बाजार के बंद होने तक अपने सारे शेयर बेचने होते हैं.
  • इंट्राडे ट्रेडिंग का समय सुबह 9:15 से लेकर दोपहर 3:30 तक रहता है.
  • शेयर बाजार के बंद होने तक आपको अपनी सभी शेयर बेचने होते हैं नहीं तो ब्रोकर आपके शेयर को बेच कर ट्रेड को Complete कर देता है.

इंट्राडे ट्रेडिंग के उदाहरण

उदाहरण के लिए माना आपने अपने Demat Account या Trading अकाउंट से Reliance के 10 शेयर 3000 रूपये में ख़रीदे हैं. तो मार्किट बंद होने तक मतलब कि 3:30 तक आपको अपने सारे शेयर बेचने होंगे चाहे उनकी Pries कुछ भी हो.

कई बार शेयर के दाम ऊपर चले जाते हैं तो आपको फायदा मिलता है और कई बारे शेयर के दाम गिर जाते हैं तो आपको नुकसान भी हो सकता है.

लेकिन आपको Trade को उसी दिन Square off करना पड़ता है, अगर आप अपने द्वारा ख़रीदे गए शेयर को 3:30 तक नहीं बेचते हैं तो ब्रोकर के द्वारा वे शेयर खुद ही बेच दिए जाते हैं और ट्रेड को पूरा कर दिया जाता है.

इस उदाहरण से आप समझ गए होंगे कि Intraday Trading क्या है. चलिए अब Intraday Trading से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बातें जानते हैं जिससे कि आपको इंट्राडे ट्रेडिंग समझने में आसानी हो सके.

हमने पिछले लेख में भारत के Best Mobile Trading Apps के बारें में बताया था.

इंट्राडे ट्रेडिंग किसमें की जाती है

अब यह प्रशन आता है कि इंट्राडे ट्रेडिंग किसमें की जाती है. इंट्राडे ट्रेडिंग को आप मुख्य रूप से तीन चीजों में कर सकते हैं.

#1 – Equity (शेयर या अंश)

आप किसी भी Listed कंपनी के शेयर को आसानी से खरीद व बेच सकते हो. और कंपनी के कुछ प्रतिशत के मालिक बन सकते हो.

उदाहरण के तौर पर माना किसी कंपनी के 1000 शेयर हैं और आप उस कम्पनी के 200 शेयर खरीद लेते हो तो आप उस कंपनी के 20 प्रतिशत के हिस्सेदार बन जाते हो.

#2 – Commodity (माल)

Commodity का मतलब उन  मूल्यवान वस्तुओं से है जो सीमित मात्रा में उपलब्ध होती हैं. जैसे –

  • गोल्ड
  • मेटल
  • आयल
  • एग्रो प्रोडक्ट
  • डिजिटल गोल्ड

#3 – Currency (मुद्रा)

आप अनेक देशों की मुद्राओं में भी ट्रेडिंग कर सकते हो.

इंट्राडे ट्रेडिंग कैसे करें (How to Do Intraday Trading in Hindi )

इंट्राडे ट्रेडिंग कैसे करें यह जानने के लिए हम इसे 4 भागों में वर्गीकृत कर सकते हैं.

#1 – सबसे पहले ट्रेडिंग सीखें 

इंट्राडे ट्रेडिंग में Risk ज्यादा होता है, अगर आपको ट्रेडिंग के बारे में ज्यादा जानकारी नही होगी तो इस बात के ज्यादा संभावना है कि आप अपने पैसे गवां बैठेंगे. इसलिए जब भी आप इंट्राडे ट्रेडिंग शुरू करने के विषय में विचार करें तो आप पहले ट्रेडिंग के बारे में सीखें कि कैसे ट्रेडिंग कर सकते हैं, अच्छे शेयर कैसे खरीदें, शेयर को किस प्रकार से ख़रीदा जाए, शेयर को कब बेचना चाहिए आदि.

#2 – अपना Demat Account खोलें

ट्रेडिंग करने के लिए Demat Account बहुत ही महत्वपूर्ण होता है, बिना Demat Account के आप ट्रेडिंग नहीं कर सकते हैं. Demat Account खोलना कोई बड़ी बात नहीं है.

आप अपने मोबाइल फ़ोन से Demat Account खोल सकते हैं. इसके लिए पहले आपको Trading App जैसे Upstox App, Groww App, Zerodha आदि को डाउनलोड करना होगा और उसमें आप आसानी से Demat Account खोल सकते हैं.

#3 – ट्रेडिंग का अभ्यास करें

अगर आपको केवल ट्रेडिंग के बारे में पता है पर आपने कभी ट्रेडिंग नहीं की तो इस बात के 99 प्रतिशत संभावना है कि आपके पैसे डूब जायेंगे. इसलिए Real Trading करने से पहले Trading का अभ्यास कर लेना भी जरुरी है, क्योकिं जब आप Practically चीजों को करते हैं तो आपको सीखने के लिए बहुत कुछ मिलता है.

#4 – Real ट्रेडिंग शुरू करें

जब आप इतना कुछ कर लेंगे तो अंत में आता है Real Trading शुरू करें. और जो कुछ आपने अभ्यास में सीखा है उसका फायदा उठाते हुए इंट्राडे ट्रेडिंग शुरू करें. आपको इससे बहुत फायदा मिलेगा.

इस प्रकार से आप आसानी से इंट्राडे ट्रेडिंग शुरू कर सकते हैं और इंट्राडे ट्रेडिंग से पैसे कमा सकते हैं.

इंट्राडे ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए – Intraday Trading Se Paise Kaise Kamaye

इंट्राडे ट्रेडिंग से आप एक दिन के अंदर ही पैसे कमा सकते हैं और गवां भी सकते हैं. इंट्राडे ट्रेडिंग हमेशा Risky होती है क्योंकि इसमें आपको शेयर बेचने के लिए कुछ ही घंटों का समय मिलता है. अगर आप निर्णय लेने में थोड़ी भी देरी करते हैं तो आपको नुकसान भी उठाना पड़ सकता है.

इंट्राडे ट्रेडिंग में अधिकतर लोग लालच की वजह से पैसे नहीं कमा सकते हैं. क्योंकि वे अपने दिमाग का ज्यादा इस्तेमाल न करते हुए उन शेयर को खरीद लेते हैं जिनके दाम ऊपर जा रहे होते हैं लेकिन बाद में जब उन शेयर के दाम गिर जाते हैं तो लोगों को नुकसान झेलना पड़ता है.

इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए हमने आपको कुछ Tips नीचे बताई है जिन्हें आप ट्रेडिंग करने के दौरान ध्यान में रख सकते हो.

Video By All Money Mantra

इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए कुछ जरुरी टिप्स

  • शेयर बाजार को लेकर अपडेट रहें तभी आप सही अंदाजा लगा सकते हैं कि आपको किस शेयर से फायदा मिल सकता है.
  • अफवाहों की तरफ ध्यान न दें, शेयर खरीदने से पहले कंपनी के बारे में रिसर्च भी कर लें.
  • लालच में न आये. शेयर खरीदते समय अपनी बुद्धि का इस्तेमाल करें.
  • जोखिम कम लें.
  • पैसे डूबने के लिए भी तैयार रहें.
  • पूरी जानकारी और अच्छे अभ्यास के बाद भी इंट्राडे ट्रेडिंग करें.
  • हाई लिक्विडिटी वाले स्टॉक को ही चुनें. हाई लिक्विडिटी के आप 2 या 3 शेयर इंट्राडे ट्रेडिंग में चुन सकते हो.
  • हर समय अपडेट रहें कि आपके द्वारा ख़रीदे गए शेयर के दाम क्या चल रहे हैं.

इंट्राडे ट्रेडिंग के फायदे (Pros of Intraday Trading in Hindi)

इंट्राडे ट्रेडिंग के बहुत सारे फायदे होते हैं जो कि निम्न प्रकार से हैं –

#1 – इंट्राडे ट्रेडिंग में मार्जिन मिलता है

इंट्राडे ट्रेडिंग करने का सबसे बढ़िया फायदा यह कि इसमें आपको मार्जिन मिलता है. इंट्राडे ट्रेडिंग में आपको ब्रोकर की तरफ से 3 से 20 गुना तक मार्जिन मिलता है. मार्जिन को आप आसानी से ऐसे समझ सकते हैं कि आपको 1000 रूपये का शेयर 100 रूपये भी मिल जाता है. इंट्राडे ट्रेडिंग में आप कम पैसों में ज्यादा शेयर खरीद सकते हैं.

#2 – कही भी ट्रेडिंग कर सकते हैं

इंट्राडे ट्रेडिंग में आप सुबह 9:15 से लेकर दोपहर 3:30 तक कही से भी ट्रेडिंग कर सकते हैं. ट्रेडिंग करने के लिए आपके पास अच्छा इन्टरनेट कनेक्शन और लैपटॉप होना चाहिए.

#3  – एक दिन के अन्दर पैसे कमा सकते हैं

इंट्राडे ट्रेडिंग में आप एक दिन के अन्दर ही अपने शेयर बेचकर पैसे कमा सकते हैं. इंट्राडे ट्रेडिंग में आपको पैसे कमाने के लिए लम्बा इन्तजार नहीं करना पड़ता है.

#4 – मार्किट गिरने पर भी आप पैसे कमा सकते हैं

इंट्राडे ट्रेडिंग में आप शेयर के दाम बढ़ने पर तो पैसे कमाते ही हैं लेकिन साथ में Short Selling के द्वारा शेयर के दाम गिरने पर भी पैसे कमा सकते हैं.

#5 – Passive Income कर सकते हैं

शेयर मार्किट में बहुत सारा पैसा है जो लोग ट्रेडिंग में Expert होते हैं वे इंट्राडे ट्रेडिंग के द्वारा लाखों की कमाई भी एक दिन में कर लेते हैं. ट्रेडिंग से पैसे कमाना एक Passive Income Idea है क्योकि आपको हर समय यहाँ पर काम नहीं करना पड़ता है.

इंट्राडे ट्रेडिंग के नुकसान (Cons)

एक ओर जहाँ इंट्राडे ट्रेडिंग के बहुत सारे फायदे हैं वही दूसरी ओर इसके कुछ नुकसान भी हैं –

  • अगर आपको ट्रेडिंग की अच्छी नॉलेज नहीं है तो आप अपना सारा पैसा भी डूबा सकते हैं.
  • इंट्राडे ट्रेडिंग बहुत ही जोखिम से भरा है अगर शेयर मार्किट में आपकी Accuracy सही नहीं है तो इंट्राडे ट्रेडिंग आपके लिए सही नहीं हो सकता है.
  • इंट्राडे ट्रेडिंग की एक कडवी सच्चाई यह भी है कि दिन के अंत तक केवल 10 प्रतिशत लोग ही यहाँ से पैसे कमा सकते हैं.

इंट्राडे ट्रेडिंग से सम्बंधित सामान्य प्रश्न

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है?

इंट्राडे ट्रेडिंग ऐसी ट्रेडिंग होती है जिसमें आपको शेयर मार्किट खुलने से लेकर बंद होने तक ट्रेडिंग करनी पड़ती है. जब मार्किट बंद होती है तो आपको अपनी सभी ट्रेड को पूरा करना होता है.

इंट्राडे ट्रेडिंग करने का समय क्या होता है?

इंट्राडे ट्रेडिंग करने का समय शेयर बाजार के खुलने से बंद होने बीच का होता है जो कि सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 9:15 से लेकर दोपहर 3:30 तक होता है.

इंट्राडे ट्रेडिंग में आप किस – किस में टट्रेड कर सकते हैं?

इंट्राडे ट्रेडिंग में आप Equity, Commodity और Currency में ट्रेड कर सकते हो.

क्या Demat Account के बिना ट्रेडिंग की जा सकती है?

जी नही, ट्रेडिंग करने के लिए आपको Demat Account की जरुरत पड़ती है. बिना Demat Account के आप ट्रेडिंग नहीं कर सकते हैं.

इन्हें भी पढ़े

अंतिम शब्द: इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है हिंदी में

इस लेख के माध्यम से हमने आपको अच्छे प्रकार से बताया कि Intraday Trading Kya Hai In Hindi और आप इंट्राडे ट्रेडिंग कैसे कर सकते हैं. लेकिन दोंस्तों जैसा कि हमने लेख में भी बताया है कि इंट्राडे ट्रेडिंग में जोखिम अधिक रहता है. अप तभी इंट्राडे ट्रेडिंग करें जब आपके पास कैपिटल अच्छी हो और ट्रेडिंग की नॉलेज आपको हो. क्योंकिं दिन के अंत तक केवल 10 प्रतिशत लोग ही इंट्राडे ट्रेडिंग से मुनाफ़ा कमा पाते हैं.

उम्मीद करते हैं आपको यह लेख पसंद आया होगा. इस लेख को अपने दोंस्तों के साथ भी शेयर करें और शेयर बाजार से जुडी जानकारी उन तक भी पहुंचाएं.

Leave a Comment