उपवाक्य की परिभाषा, प्रकार और उदाहरण


उपवाक्य वाक्य का महत्वपूर्ण अंश होता है जिसमे उद्देश्य एयर विधेय उपस्थित होते हैं। अब हम उपवाक्य की परिभाषा तथा उपवाक्य के प्रकार के बारे में पढ़ेंगे। यहाँ पर आपको उपवाक्य से सम्बंधित समस्त जानकारी मिल जाएगी।

उपवाक्य की परिभाषा

उपवाक्य, वाक्य का महत्वपूर्ण अंश होता है जिसमे विधेय एवं उद्देश्य उपस्थित होते हैं। साधारण भाषा में समझे तो उपवाक्य पदों का ऐसा समूह होता है जो स्वयं में अर्थपूर्ण हो, तथा समान्यतः किसी अन्य वाक्य का भाग हो इनके अलावा जिसमे विधेय एवं उद्देश्य भी उपस्थित हों। वह उपवाक्य कहलाते हैं।

जैसे -: जितना, जिससे, जहाँ, जो, ताकि, ज्यो – त्यों, चूँकि, क्योंकि, यदि, क्योंकि, जब इत्यादि।

उपवाक्य के प्रकार 

उपवाक्य को समान्यतः दो भागों में बांटा गया है।

  • प्रधान उपवाक्य
  • आश्रित उपवाक्य

1. प्रधान उपवाक्य

जब कोई उपवाक्य, वाक्य से अलग होने के बाद भी पूर्ण अर्थ निकलता है वह प्रधान उपवाक्य कहलाता है।

2. आश्रित उपवाक्य

जब कोई उपवाक्य वाक्य से अलग होने के बाद पूर्ण अर्थ नही देता है तो वह आश्रित उपवाक्य कहलाता है। 

उदाहरण –

यदि गाड़ी आ जाये तो मैं चलूँगा।

उपर्युक्त दिए गए वाक्य में यदि गाड़ी आ जाये आश्रित उपवाक्य है तथा तो मैं चलूँगा प्रधान उपवाक्य है।

आश्रित उपवाक्य के प्रकार

आश्रित उपवाक्य के तीन प्रकार होते हैं।

  • संज्ञा उपवाक्य
  • विशेषण उपवाक्य
  • क्रिया विशेषण उपवाक्य

1. संज्ञा उपवाक्य

जो उपवाक्य प्रधान अथवा मुख्य उपवाक्य के कारक, क्रिया, कर्म अथवा संज्ञा के रूप में सहायता करते हैं उसे संज्ञा उपवाक्य कहते हैं। यह योजक शब्द कि के द्वारा जुड़ा हुआ होता है।

उदाहरण –

मां ने बचपन में ही घोषणा कर दी थी कि मेरा लड़का ऑफिसर बनेगा।

2. विशेषण उपवाक्य

जब कोई आश्रित उपवाक्य प्रधान उपवाक्य के संज्ञा पड़ की विशेषता  बताता है वह विशेषण उपवाक्य कहलाता है। इसमे जिसे, जो, जितना, जैसा इत्यादि शब्दो का प्रयोग किया जाता है।

उदाहरण –

वह लड़की जो कल गाना गा रही थी आज नहीं आयी है।

3. क्रिया विशेषण उपवाक्य

जब कोई आश्रित उपवाक्य प्रधान उपवाक्य की क्रिया की विशेषता का वर्णन करता है तो वह क्रिया विशेषण उपवाक्य कहलाता है। इसमें जहाँ, जब, ज्यों, जिधर इत्यादि शब्द प्रयोग किये जाते हैं।

उदाहरण –

जब कोई गलती करता है तभी तो उसे इसकी सजा मिलती है

इस लेख में हमने आपको उपवाक्य तथा उसके प्रकार के बारे में उदाहरण सहित समस्त जानकारी प्रदान की है यदि आपको इस लेख में दी गई जानकारी पसन्द आयी हो तो इसे आगे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

Leave a Comment