[60+] Akelapan Shayari in Hindi (2022) | अकेलापन शायरी


क्या आप अकेले रह गए है? हम आपके लिए लेके आए है Akelapan Shayari पढिए और शेयर करें अपनी फीलिंगस इन Akelapan Shayari in Hindi के साथ सोशल मीडिया पर


Akelapan Shayari


Akelapan Shayari

अकेलेपन से दिल जाने क्यूँ घबरा रहा है,
मुझें वो तेरी बातें फिर से याद दिला रहा है..!!

यूँ ही बेवजह न मुझे वो खोजता होगा,
शायद उसे भी ये अकेलापन नोचता होगा..!!

ये अकेलापन मुझे भाने लगा अब,
करीब जाना मुझे चौकाने लगा अब..!!

हम अकेले नही रहते अकेलापन साथ आ जाता है,
हम रोते नही आँखो से दिल का दर्द बयान हो जाता है,
अकेला तो चाँद भी रह जाता है तारो की महफ़िल मे,
जब मानने वाला खुद ही रूठ जाता है..!!

मैं अकेलेपन में खुद को तुमसे छिपाते जा रहे हूँ,
अपनी ही नजरों में खुद को गिराते जा रहा हूँ..!!

मेरे अकेलेपन ने भी क्या खूब साथ निभाया इस ज़िन्दगी में,
कि अब तो आलम ये है कि हम दीवारों से भी बातें करते हैं..!!

अकेलेपन का अज़्मी हो भी तो एहसास कैसे हो,
तसलसुल से हमारी शाम-ए-तन्हाई सफ़र में है..!!

तन्हा दिन, तन्हा रातें,
अकेलेपन में भी याद आती हैं सिर्फ तेरी बातें,
कोशिश कर लूं छुपाने की,
पर बाहर आ ही जाती हैं जज़्बातें..!!

झूठी मुस्कान मुस्कुराते पूरी उम्र कट जाएगी,
महफ़िल की आड़ में तन्हाई कहीं छुप जाएगी..!!

तन्हाइयों के घरौंदे में हम बस गए,
जो अकेलेपन की दास्तां सुनाई,
तो मेरी बातों पर लोग हँस दिए..!!

Shayari on Akelapan
Shayari on Akelapan

सुबह से रात और रात से यु ही सुबह हो जाती है,
ये अकेलापन खत्म होने का नाम ही नहीं लेता है..!!

अब इस घर की आबादी मेहमानों पर है ,
कोई आ जाए तो वक़्त गुज़र जाता है..!!

मज़बूरी में जब कोई जुदा होता है,
ज़रूरी नहीं कि वो बेवफ़ा होता है,
देकर वो आपकी आँखों में आँसू,
अकेले में वो आपसे ज्यादा रोता है..!!

आज जो इस अकेलेपन का एहसास हुआ खुद को,
तो सभाल नहीं पाया अपने इन आसुओं को..!!

वो अकेला चाँद है आसमां मे जो तेरी तरह है हजारो मे,
मगर वो चाँद अकेला है मेरी तरह उन सितारो मे..!!

क्या कहें जनाब कि अकेलापन क्यों इतना भाता है,
खुद से बातों में अक्सर यू ही वक्त गुज़र जाता है..!!

आज जो इस अकेलेपन का एहसास हुआ खुद को,
तो समहाल नहीं पाया अपने इन आसुओं को..!!

अकेलापन अब हमे सताता है,
दिन मे सपने ओर रातो को जागता है..!!

अकेलेपन से कोई बैर नही है मुझे,
डरता हूँ की कोई याद ना आ जाये मुझे..!!

जनाब कैसे मुकम्मल हो उस इश्क़ की दास्तां,
जिसकी फितरत में ही अकेलापन होता है..!!


Akelapan Shayari in Hindi


Akelapan Shayari in Hindi
Akelapan Shayari in Hindi

सुन अकेला रहना और अकेलेपन में रहना,
वैसा ही होता है जैसे की मुस्कुराना और गम में रहना..!!

मेरा अकेलापन ही मेरा साथी हैं,
मुझे किसी और की ज़रूरत नहीं,
क्या करे किसी से रिश्ता जोड़ कर,
जब की मुझे जिंदगी में और दर्द की ज़रूरत नहीं..!!

आज जो इस अकेलेपन का एहसास हुआ खुद को,
तो संभाल नहीं पाया अपने इन आसुओं को..!!

अकेलेपन से दिल जाने क्यूँ घबरा रहा है,
मुझें वो तेरी बातें फिर से याद दिला रहा है..!!

हमारे इस अकेलेपन ने हमें जीना सीखा दिया,
बची हमारी ये हसीं तो उसे हमनें पहले ही भुला दिया..!!

ख्वाब बोये थे, और अकेलापन काटा है,
इस मोहब्बत में यारो, बहुत घाटा है..!!

वो तुम्हारे नज़रिए से अकेलापन हो सकता है,
पर मेरे नज़रिए से देखो वो मेरा सुकून है..!!

अकेलापन एक सज़ा सी है,
लेकिन इसमें जीने में भी अपना अलग ही मज़ा है..!!

तेरे जाने के बाद मैंने कितनों को यु आज़माया हैं,
मगर कोई भी मेरे इस अकेलेपन को दूर नहीं कर पाया हैं..!!

हमारे इस अकेलेपन ने हमें जीना सीखा दिया,
बची हमारी ये हसीं तो उसे हमनें पहले ही भुला दिया..!!

Akelapan Shayari Hindi
Akelapan Shayari Hindi

मुझे मेरा अकेलापन ही कुछ ज्यादा भाता है,
इन खोखले बनावटी रिश्तों के बीच दिल घबराता है..!!

यूँ ही बेवजह न मुझे वो खोजता होगा,
शायद उसे भी ये अकेलापन नोचता होगा..!!

अकेलापन एक सज़ा सी है,
लेकिन इसमें जीने में भी अपना अलग ही मज़ा है..!!

किसी को अहसास दिलाने के लिए बिछड़ा न करो,
वरना वक़्त उसे आपके बगैर ही जीना सीखा देगा..!!

मेरे अकेलेपन ने भी क्या खूब साथ निभाया इस ज़िन्दगी में,
कि अब तो आलम ये है कि हम दीवारों से भी बातें करते हैं..!!

जनाब जिंदगी में आकेलेपन और एहसासों के बड़ा काम होता हैं,
जो दूसरे के गमों को अपनाता हैं वही इंसान होता हैं..!!

दोस्ती की राहो मे कभी अकेलापन ना मिले,
ए दोस्त ज़िंदगी मे तुम्हे कभी गम ना मिले,
दुआ करते है हम खुदा से,
तुम्हे जो भी दोस्त मिले हम से कम ना मिले..!!

इस चार दिन की जिंदगी में हम अकेले रह गए,
मौत का इंतजार करते करते अकेलेपन से मोहब्बत कर गए..!!

उदासियों का ये मौसम बदल भी सकता था,
वो चाहता तो मेरे साथ चल भी सकता था..!!

कल भी हम तेरे थे आज भी हम तेरे है,
बस फर्क इतना है, पहले अपनापन था और अब अकेलापन है..!!


Sad Akelapan Shayari


Sad Akelapan Shayari
Sad Akelapan Shayari

इस अकेलेपन ने एक बात तो सीखा दी हैं,
दिखावे की नज़दीकीयां से तो हकीक़त की दूरिया अच्छी हैं..!!

मेरी तन्हाई देखकर उदासियां भी रो पड़ी,
जब मुस्कुराने की कोशिश की तो मेरी गुस्ताखियां रो पड़ी..!!

अकेलेपन भी हमारा ये दूर करती है,
कि रख के देखो ज़रा अपने पास तस्वीरें..!!

सुनो तुम्हारे जाने के बाद हम कभी अकेलापन महसूस ही नहीं कर पायें,
क्या करते कमबख्त तनहाईयों को मोहब्बत जो हो गई है हमसे..!!

रिश्ता हमारा इस जहां में सबसे प्यारा हो,
जैसे जिंदगी को सांसों का सहारा हो,
याद करना हमें उस पल में,
जब तुम अकेले हो और कोई ना तुम्हारा हो..!!

तन्हाई मे अकेलापन सहा ना जाएगा,
पर महफ़िल मे अकेला रहा ना जाएगा,
उनका साथ ना हो फिर भी जिया जाएगा,
पर उनका साथ कोई और हो ये सहा ना जाएगा..!!

अकेला मरने के लिए तैयार हूँ,
लेकिन अकेला जीने के लिए तैयार नहीं हूँ..!!

बढ़ती नजदीकियों को अक्सर जुदाई में बदलते देखा है,
आज सोचा अपने अकेलेपन से नजदीकी बढ़ा के तो देखूं..!!

अकेलापन दिलजलों को खूब भाता है,
यादों के मारों को सुकून, तन्हाई में ही मिल पाता है..!!

अब मुझे रास आ गया है अकेलापन,
अब आप अपने वक्त का अचार डालिए..!!

Akelapan Par Shayari
Akelapan Ki Shayari

अजीब है मेरा अकेलापन, ना खुश हूँ ना उदास हूँ,
बस खाली हूँ और खामोश हूँ..!!

ये अकेलापन सभी को काटता है,
पर न कोई इसको बाँटता है,
अगर जो कोई चाहे इसको बाँटना,
बुरा भला कह कर सब कोई डाँटता है..!!

इस अकेलेपन में भी कितनी वफादारी है,
मुझे कभी अकेला नही छोड़ता ये अकेलापन..!!

जनाब खुद से खुद की पहचान करा देता है ये अकेलापन,
लोगो के बीच आपकी एक अलग सीbपहचान बना देता है ये अकेलापन..!!

इस चार दिन की जिंदगी में हम अकेले रह गए,
मौत का इंतजार करते करते अकेलेपन से मोहब्बत कर गए..!!

अकेलापन क्या होता है कोई ताजमहल से पूछे,
देखने के लिए पूरी दुनिया आती है लेकिन रहता कोई नही..!!

क्या कहें जनाब कि अकेलापन क्यों इतना भाता है,
खुद से बातों में अक्सर यू ही वक्त गुज़र जाता है..!!

सुबह से रात और रात से यु ही सुबह हो जाती है,
ये अकेलापन खत्म होने का नाम ही नहीं लेता है..!!

उस की जुस्तजू, इंतज़ार और अकेलापन,
थक कर मुस्कुरा देता हूँ जब रोया नहीं जाता..!!

अकेलेपन से कोई बैर नही है मुझे,
डरता हूँ की कोई याद ना आ जाये मुझे..!!


Final Words


आपको ये ब्लॉग Akelapan Shayari in Hindi कैसा लगा कमेंट करके जरुर बताएं! इसके आलावा भी अगर ब्लॉग या वेबसाइट से संबधित कोई Suggestion या Advice है। तो दे सकते है हम उसमे सुधार करने की कोशिश करेंगे!

अगर आपको Akelapan Shayari पसंद आया तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें! और हमे FacebookInstagram और Pinterest पर भी फॉलो कर सकते है..!! धन्यवाद



Leave a Comment