[60+] Safar Shayari in Hindi (2022) | Travel Shayari – DesiFunSun


क्या आप Safar Shayari ढूंढ रहे है? तो सही जगह पर है पढिए Best Safar Shayari in Hindi और Travel Shayari और शेयर करें सोशल मीडिया पर


Safar Shayari


Safar Shayari

अजीब सा सफर है ये ज़िंदगी,
मंज़िल मिलती है मौत के बाद..!!

क्या बताऊं कैसे गुज़र रही है राह-ए-ज़िंदगी,
शामें तन्हा है और रातें अकेली..!!

ज़िंदगी के सफर में हिंदी वाला सफर करते रहिये,
वर्ना अंग्रेजी वाला suffer तो लगा ही रहेगा..!!

माना की ज़िंदगी में गम बहुत है,
कभी सफर पर निकलो और देखो खुशियां..!!

ये रास्ते कहां तक हैं इनका कोई किनारा क्यों नहीं दिखता,
इस तन्हाई में कोई सहारा क्यों नहीं दिखता..!!

अब घर में मैं मेहमान हो गया हूँ रोज़ आता जाता हूँ,
यूही लगता है अब बेघर हो गया हूँ मैं..!!

ये सफ़र है लगता है अब मेरा कोई घर नहीं,
ताउम्र सफ़र में बिता दी ज़िंदगी मैने,
अब लगता है कि सफ़र का हि हूँ मैं..!!

ख्वाहिश में मेरी केवल इतना गम है,
कि मैं तेरी यादो के सहारे सफ़र में चलता जा रहा हूँ..!!

मैं तो यूँ ही सफर पर निकला था,
एक अजनबी मिला और उसने अपना बना लिया..!!

जब भी सफर करो दिल से करो,
सफर से खूबसूरत यादें नहीं होतीं..!!

Safar Shayari in Hindi
Safar Shayari in Hindi

उम्र बिना रुके सफर कर रही है,
और हम ख़्वाहिशें लेकर वहीं खड़े हैं..!!

किसी को मंज़िल की भूख है तो किसी को पैसों की प्यास है,
पर सच कहूँ तो मेरे लिए ये सफर ही ख़ास है..!!

आज फिर तेरी यादों के सफर में खो गया,
ना मंज़िल मिली ना सफर पूरा हुआ..!!

चल वहीं ऐ दिल जहाँ हमसफर है मेरा,
ये अजनबी रास्ते वो आखिरी सफर है तेरा..!!

ना मंजिलों के लिए ना ही रास्तों के लिए,
मेरा ये सफर है एखुद से खुद की पहचान के लिए..!!

मुझे ख़बर थी मेरा इन्तजार घर में रहा,
ये हादसा था कि मैं उम्र भर सफ़र में रहा..!!

हर मुसाफिर यहाँ मंज़िल का इंतज़ार नहीं कर रहा,
खुश होने के लिए कुछ सफर का मज़ा भी जी भर कर ले रहे हैं..!!

जूते महंगे हैं अब पर छोटा सा सफर है,
एक तरफ ऑफिस दूसरी तरफ घर है..!!

ये भी है कि मंजिल तक पहुंचे नहीं हैं हम,
ऐसा भी नहीं है कि सफर ख़त्म हो गया..!!

हमारी मुहब्बत के सफ़र में एक ऐसा मोड़ भी आया,
ग़ैरों से करते रहें वो गुफ़्तगू और हर बार बेवफ़ा हमें बताया..!!

Safar Shayari Hindi
Safar Shayari Hindi

थोड़ी सी मुस्कुराहट बरकरार रखना,
सफर में अभी और भी किरदार निभाने हैं..!!

है नया सफर नयी राह,
मगर ख्वाब वही मंजिल वही..!!

कुछ सफर मंज़िल से ज्यादा खूबसूरत होते हैं,
कुछ मोहब्बतों का अधूरा रह जाना ही मजा है..!!

मुझे तो पता था तु कही और का मुसाफ़िर था,
हमारा शहर तो बस यूं ही तेरे रास्ते मैं आ गया था..!!

एक सफर वो भी है जिसमें,
पैर नहीं दिल दुखता है..!!

दिल में बसी तुम्हारी तस्वीर,
बस यही सोचती है हर पल,
के इस शहर से उस शहर तक का सफर
कितना सुहाना हो गया है..!!

बस सफर हुआ था साथ में,
मंजिल अलग थी दोनों की..!!

कशमकश के इस सफर को छोड़ नहीं पाता हूं,
हर मोड़ पे तुझे छोड़कर तुझमें ही मिल जाता हूं..!!

तराश रहा हूं खुद को हर शब्द की नोक पर,
बोलबच्चन से लेखक तक का सफर जो तय करना हैं..!!

कुछ सपने पूरे करने हैं,
कुछ मंजिलों से मिलना है,
अभी सफर शुरू हुआ है,
मुझे बहुत दूर तक चलना है..!!


Travel Shayari


Travel Shayari
Travel Shayari

किसी को घर से निकलते ही मिल गई मंज़िल,
कोई हमारी तरह उम्र भर सफ़र में रहा..!!

सफर में संभल कर चलने वाले काफी मिल जाएंगे,
मैं तो इन सड़कों पर दौड़ना चाहता हूँ..!!

समुंदर की लहरें वो ताज़ी हवाएँ,
रेत की नमी वो पेड़ वो ज़मीन,
सब मुझे अपने घर बुला रहे है..!!

इंसान के यात्रा करने के जुनून ने ही,
उसे चांद तक पहुंचा दिया..!!

अगर अपने आप से ऊब जाए तो जरूर सफर पर निकल जाये,
हो सकता है की आपकी ज़िंदगी संवर जाए..!!

हम जितनी दुनिया देखते जाते हैं,
हमारे नज़रिए का दायरा उतना ही बढ़ता जाता है..!!

इस सफ़र में नींद ऐसी खो गई,
हम न सोए रात थक कर सो गई..!!

किसी को मंज़िल की भूख है तो,
किसी को पैसों की प्यास है पर,
सच कहूँ तो मेरे लिए ये सफर ही ख़ास है..!!

किसी जगह के बारे में ज़िन्दगी भर सुनने से अच्छा है,
कि एक बार उसे जाकर खुद देख लो..!!

बहुत देखे ये खराब दुनिया वाले,
अब मुझे ये खूबसूरत दुनिया देखनी है..!!

Shayari on Safar
Shayari on Safar

सफर की कठिनाइयां,
मंज़िल की खूबसूरती बयां करती हैं..!!

मैं अकेला ही चला था जानिब ए मंज़िल मगर,
लोग साथ आते गए और कारवाँ बनता गया..!!

ऑफिस के एक कमरे को अपनी दुनिया बनाने से बस पैसे मिलते है,
पर पूरी दुनिया घूम कर उसे ही अपना घर बना लो तो ख़ुशी मिल जाती है..!!

ज़िंदगी यूँ हुई बसर तन्हा,
क़ाफ़िला साथ और सफ़र तन्हा..!!

कहीं जाना चाहते हैं तो आज चले जाए क्यूंकि,
किसी ने सच ही कहा है क्या पता कल हो ना हो..!!

इन अजनबी सी राहों में जो तू मेरा हमसफ़र हो जाये,
बीत जाए पल भर में ये वक़्त और हसीन सफ़र हो जाये..!!

ना पूछो कि मेरी मंजिल कहाँ है,
अभी तो सफर का इरादा किया है,
ना हारूंगा हौंसला उम्र भर,
ये मैंने किसी से नहीं खुद से वादा किया है..!!

तेरी यादों की कोई सरहद होती तो अच्छा था,
खबर तो रहती सफर तय कितना करना है..!!

मंजिल बड़ी हो तो सफ़र में कारवां छूट जाता है,
मिलता है मुकाम तो सबका वहम टूट जाता है..!!

उम्र बिना रुके सफर कर रही है,
और हम ख़्वाहिशें लेकर वहीं खड़े हैं..!!

ज़िंदगी एक सुहाना सफर है,
अगर साथ एक मनचाहा हमसफ़र है..!!

Safar Par Shayari
Safar Par Shayari

कुछ सपने पूरे करने हैं कुछ मंजिलों से मिलना है,
अभी सफर शुरू हुआ है मुझे बहुत दूर तक चलना है..!!

तराश रहा हूं खुद को हर शब्द की नोक पर,
बोलबच्चन से लेखक तक का सफर जो तय करना हैं..!!

ये भी है कि मंजिल तक पहुंचे नहीं हैं हम,
ऐसा भी नहीं है कि सफर ख़त्म हो गया..!!

किसी को घर से निकलते ही मिल गई मंज़िल,
कोई हमारी तरह उम्र भर सफ़र में रहा..!!

रास्ते कहाँ खत्म होते हैं जिंदगी के सफर में,
मंज़िल तो वही है जहां ख्वाहिशें थम जाएँ..!!

कुछ सफर मंज़िल से ज्यादा खूबसूरत होते हैं,
कुछ मोहब्बतों का अधूरा रह जाना ही मजा है..!!
Safar Ki Shayari

दिल से मांगी जाए तो हर दुआ में असर होता है,
मंजिलें उन्हीं को मिलती है जिनकी जिंदगी में सफ़र होता है..!!

कहीं जाना चाहते हैं तो आज चले जाए,
क्यूंकि किसी ने सच ही कहा है क्या पता कल हो ना हो..!!

अब जाना मैंने ज़िंदगी क्या है,
सफर में भी हूँ लेकिन जाना कहीं नहीं है..!!

ज़िंदगी एक ऐसा सफर है,
जिसकी राह ही इसकी मंज़िल है..!!

आरज़ू थी मिले हमसफ़र मुझे भी ज़िंदगी के सफर में,
तलाश मेरी पूरी हुई जब ज़िंदगी ने मिलाया मुझे तुमसे इस सफर में..!!


Final Words


आपको ये ब्लॉग Safar Shayari in Hindi और Travel Shayari कैसा लगा कमेंट करके जरुर बताएं! इसके आलावा भी अगर ब्लॉग या वेबसाइट से संबधित कोई Suggestion या Advice है। तो दे सकते है हम उसमे सुधार करने की कोशिश करेंगे!

अगर आपको Safar Shayari पसंद आया तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें! और हमे FacebookInstagram और Pinterest पर भी फॉलो कर सकते है..!! धन्यवाद



Leave a Comment