MBA Full Form In Hindi – एमबीए कोर्स क्या है, सिलेबस, शुक्ल, नौकरियां


MBA यानि मास्टर ऑफ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन, दो साल का मास्टर डिग्री कोर्स होता है। MBA मैनेजमेंट की फील्ड में स्टूडेंट्स को कई सारे करियर विकल्प प्रदान करता है। इसमें आपको बिज़नेस से जुड़ी जानकारियों के बारे में सिखाया जाता है जैसे- बिज़नेस मैनेजमेंट, मार्केटिंग, बिज़नेस स्किल आदि। अगर आप बिजनेसमैन बनने की इच्छा रखते है तो MBA Courses में आपको एक बेहतर बिजनेसमैन बनने के कई सारे गुण सीखने को मिलते है। पर इसके लिए आपको MBA Kya Hota Hai, MBA Full Form और इससे जुड़ी अन्य जानकारियाँ पता होना जरुरी है।

MBA Course 2022 में एडमिशन, MBA एंट्रेंस एग्जाम पर आधारित है जिसके बाद GD / PI राउंड होता है। एमबीए कोर्स में आवेदन करने के लिए स्टूडेंट्स के पास किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से किसी भी स्ट्रीम से स्नातक (ग्रेजुएट) की डिग्री में 50% से अधिक अंक होना चाहिए। हालाँकि बहुत से प्राइवेट कॉलेजेस बिना एंट्रेंस एग्जाम के भी MBA कोर्स करने की सुविधा प्रदान करते है।

अगर आपने भी MBA करने का मन बना लिया है, तो आज की यह पोस्ट MBA Me Kya Hota Hai आपके बहुत काम आने वाली है, जिसमें मैंने आपके साथ MBA Ke Bare Mein Jankari जैसे MBA Kya Hai, MBA Subjects, MBA Me Kya Hota Hai और MBA Kitne Saal Ka Hota Hai शेयर की हैं।

MBA Kya Hai

MBA का फुल फॉर्म ‘मैनेजमेंट ऑफ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन’ होता है। यह 2 साल का एक पोस्टग्रेजुएट कोर्स है, जिसमें आपको मैनेजमेंट और मार्केटिंग के बारे में सिखाया जाता है। MBA में प्रवेश पाने के लिए आपके ग्रेजुएशन में न्यूनतम 50% होना आवश्यक है।

यह भारत और विदेशों में सबसे लोकप्रिय पोस्टग्रेजुएट कार्यक्रमों में से एक है। यह पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम कॉर्पोरेट दुनिया में मुख्य रूप से प्रबंधकीय स्तर पर नौकरी के बहुत से अवसर प्रदान करता है। साइंस, कॉमर्स, आर्ट्स, मैथ्स आदि सभी स्ट्रीम्स के छात्र इसमें आगे अपना करियर बना सकते है। हालाँकि MBA कोर्स BBA (बेचलर ऑफ़ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन) के बाद किया जाने वाला सबसे लोकप्रिय कोर्स है।

एक रेगुलर एमबीए आमतौर पर दो साल का कोर्स होता है, जिसे 4 सेमेस्टर में विभाजित किया जाता है। हालांकि, कुछ निजी संस्थान है जो एक साल के PGDM (पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन मैनेजमेंट) प्रोग्राम भी प्रदान करते है।

MBA Course Overview

Course Name MBA
MBA Full Form Master Of Business Administration
MBA फीस 2 Lakh से 30 Lakh
MBA एंट्रेंस एग्जाम CAT, MAT, CMAT, NMAT, GMATE, XAT
MBA Course Duration 2 साल
MBA करियर विकल्प फाइनेंस मैनेजर
फाइनेंसियल एडवाइजर, आईटी मैनेजर, एचआर मैनेजर, ऑपरेशन मैनेजर
MBA सैलरी 5 लाख से 20 लाख और इससे अधिक भी

MBA Ka Full Form (एमबीए फुल फॉर्म)

Full Form of MBA “Master Of Business Administration” होता है, तथा MBA Full Form in Hindi “व्यवसाय प्रबंधन में स्नातकोत्तर” होता है। यह 2 वर्ष का पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स है, जिसे छात्र रेगुलर, ऑनलाइन और दूरस्थ शिक्षा (Distance Education) सहित विभिन्न तरीकों से एमबीए कर सकते हैं।

एमबीए करने के बाद आप कई क्षेत्र में नौकरी कर सकते हैं, जैसे MBA करने के बाद एक मैनेजर की जॉब प्रोफाइल में व्यापक रूप से योजना बनाना, रणनीतिक, निष्पादन, टीम का नेतृत्व, ग्राहकों के साथ संपर्क, अन्य विभागों के साथ समन्वय, कार्य और जिम्मेदारियों को लेना, परियोजनाओं के संबंध में उच्च अधिकारियों को रिपोर्ट करना आदि चीजें शामिल है।

What is MBA in Hindi ये तो अब आप समझ ही गए होंगे, आईये आगे अब मैं आपको एमबीए के लिए योग्यता, Syllabus, MBA Se Kya Hota Hai के बारे में बताती हूँ।

MBA Ke Liye Qualification

एमबीए के लिए योग्यता या पात्रता मानदंड प्रत्येक कॉलेज में थोड़े बहुत भिन्न हो सकते है परन्तु आगे बताए गए MBA Karne Ke Liye Qualification लगभग एक समान ही है।

  • छात्र का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन होना चाहिए।
  • विद्यार्थी के बेचलर डिग्री में न्यूनतम स्कोर 50% होना अनिवार्य है, जबकि आरक्षित श्रेणी के छात्रों के लिए अंक में न्यूनतम स्कोर 45% है।
  • अंतिम वर्ष के ग्रेजुएट उम्मीदवार भी MBA कोर्स के लिए आवेदन करने के लिए पात्र है, परन्तु इसके लिए उन्हें संस्थान से निर्धारित अवधि के भीतर ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी करने का प्रमाण देना होगा।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: IIT Kya Hai? – आईआईटी की तैयारी से जुड़ी पूरी जानकारी।

MBA Kitne Saal Ka Course Hai

MBA दो साल का प्रोफेशनल डिग्री कोर्स है, जिसमें आपको मैनेजमेंट और मार्केटिंग से सम्बंधित विषयों के बारे में सिखाया जाता है। हालाँकि इस 2 साल के कोर्स को 6-6 महीने के 4 सेमेस्टर में बाँटा गया है, जिसमें आपको व्यवसाय से सम्बन्धित पढ़ाई करवाई जाती है।

MBA के प्रकार 

यहाँ पर आपको MBA कोर्स के लिए प्रदान किये जाने कुछ प्रोग्राम की जानकारी दी जा रही है, जिन्हें आप अपने समय व योग्यता के हिसाब से चुन सकते है।

MBA Courses Students Duration
Full-Time MBA Full Time Students 2 Year
Distance MBA Working Professionals 2 Year
One Year Full Time MBA Working Experience Professionals 1 Year
Executive MBA Experience Level 1-2 Years
Online MBA Working Professionals 1-4 Year
MBA Integrated Course Full Time Students 5 Year

यदि आप 1 साल का मैनेजमेंट कोर्स करना चाहता है तो उसके लिए आप PGDM (पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन मैनेजमेंट) को चुन सकते है जिसके बारे में पूरी जानकारी पाने के लिए इस लिंक “PGDM कोर्स कैसे करें” पर क्लिक करें।

Source: Quick Support

MBA के लिए Entrance Exams

MBA में एडमिशन ज्यादातर अखिल भारतीय प्रवेश परीक्षा (All India Entrance Exams) के माध्यम से होता है, जो इस प्रकार हैं:

MBA Course में प्रवेश कैसे लें?

इन सभी एंट्रेंस एग्जाम में से GMAT और CAT एग्जाम सामान्यता सभी कॉलेजेस में मान्य होता है। एमबीए एंट्रेंस परीक्षा में प्राप्त अंको के आधार पर छात्रों को college मिलते है। इन प्रवेश परीक्षा में प्राप्त अंक विभिन्न कॉलेजेस में प्रवेश के लिए मान्य है।

इन एंट्रेंस एग्जाम के लिए आवेदन शुल्क 1500 से लेकर 2500 रूपये तक हो सकता है। कुछ निजी कॉलेज ऐसे भी होते है जहाँ आप बिना Entrance Exams दिए भी एडमिशन ले सकते है।

MBA Syllabus in Hindi

नियमित MBA पाठ्यक्रम दो साल का कार्यक्रम है जिसे 4 सेमेस्टर में विभाजित किया जाता है। सामान्य विषयों के लिए Syllabus आपको आगे बताया गया है:

MBA Semester I Syllabus:

  • Organizational Behavior
  • Marketing Management
  • Quantitative Methods
  • Human Resource Management
  • Managerial Economics
  • Business Communication
  • Financial Accounting
  • Information Technology Management

MBA Semester II Syllabus:

  • Organization Effectiveness and Change
  • Management Accounting
  • Management Science
  • Operation Management
  • Economic Environment of Business
  • Marketing Research
  • Financial Management
  • Management of Information System

MBA Semester III Syllabus:

  • Business Ethics & Corporate Social Responsibility
  • Strategic Analysis
  • Legal Environment of Business
  • Elective Course

MBA Semester IV Syllabus:

  • Project Study
  • International Business Environment
  • Strategic Management
  • Elective Course

जरूर पढ़े: BCA Kya Hai? – जानिए BCA Kaise Kare In Hindi की सम्पूर्ण जानकारी।

एमबीए में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं

MBA करने वाले छात्रों को अपने दूसरे साल में अपनी Specialization के अनुसार ही MBA Courses का चयन करना पड़ता है। नीचे आपको कुछ टॉप MBA Courses List दी गयी है जिनमें से आप किसी को भी चुन सकते है:

  • Marketing Management
  • Finance
  • Human Resource
  • Supply Chain Management
  • Health Care Management
  • Information Technology (IT)
  • Banking
  • Rural Management
  • Agribusiness Management

MBA Ki Fees Kitni Hai

एमबीए कोर्स की फीस प्रत्येक कॉलेजेस, यूनिवर्सिटीस में अलग-अलग होती है। सरकारी कॉलेजों में एमबीए कोर्स की फीस प्राइवेट कॉलेज की अपेक्षा काफी कम होती है।

  • सरकारी कॉलेजेस में एमबीए कोर्स के लिए औसत शुल्क 2 से 20 लाख रूपये तक होता है।
  • वहीं प्राइवेट कॉलेजेस में MBA Fees की अगर बात करें तो यह औसतन 10 लाख से 30 लाख तक हो सकती है।
  • यदि आप भारत के टॉप IIM (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट) इंस्टिट्यूट जैसे- रोहतक, नागपुर, जम्मू, अमृतसर से MBA Course करते है तो उनकी फीस लगभग 10-15 लाख रूपये है।
  • वहीं अगर आप MBA के लिए होने वाली प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam) को क्लियर कर लेते हैं, तो आपको सरकारी कॉलेज में एडमिशन मिल जाता है, इसके अलावा Entrance Exam Clear कर लेने पर आपकी प्राइवेट कॉलेज में भी कम फेस लगती है।

MBA के लिए भारत में टॉप कॉलेजेस

इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट (IIM) को मिलाकर भारत में बहुत से सर्वश्रेष्ठ कॉलेजेस है जहाँ से आप MBA की पढ़ाई कर सकते है जिनमें से कुछ Top Colleges की लिस्ट आपको आगे दी गयी है:

  • IIM अहमदाबाद: भारतीय प्रबंधन संस्थान
  • IIFT नई दिल्ली: भारतीय विदेश व्यापार संस्थान
  • IIM कलकत्ता: भारतीय प्रबंधन संस्थान
  • ISB हैदराबाद: इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस
  • IIM बैंगलोर: भारतीय प्रबंधन संस्थान
  • SPJIMR मुंबई: एसपी जैन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड रिसर्च
  • XLRI जमशेदपुर: जेवियर स्कूल ऑफ मैनेजमेंट
  • IIM इंदौर: भारतीय प्रबंधन संस्थान
  • FMS नई दिल्ली फैकल्टी ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज
  • IIM लखनऊ: भारतीय प्रबंधन संस्थान
  • MDI गुड़गांव: प्रबंधन विकास संस्थान
  • IIM कोझीकोड: भारतीय प्रबंधन संस्थान

डिस्टेंस लर्निंग से एमबीए कैसे करें 

MBA Distance Education एक 2 वर्ष का ही पोस्टग्रेजुएशन मैनेजमेंट कोर्स है। जो छात्र रेगुलर MBA कोर्स करने में असमर्थ होते है उनके लिए डिस्टेंस एमबीए कोर्स सबसे उपयुक्त है। कुछ कॉलेजेस CAT, MAT, XAT, और ATMA आदि एंट्रेंस एग्जाम में स्टूडेंट्स की परफॉरमेंस के आधार MBA दूरस्थ शिक्षा में प्रवेश भी प्रदान करते है। जबकि बहुत से प्राइवेट कॉलेज बिना एंट्रेंस एग्जाम के भी एमबीए डिस्टेंस लर्निंग कोर्स के लिए प्रवेश प्रदान करते है।

MBA Karne Ke Fayde 

MBA की डिग्री प्राप्त करने के भी कई फायदे होते है, जिनका लाभ आप MBA करने के बाद ले सकते है। तो चलिए जानते है उन फायदों के बारे में:

  • MBA करने के बाद अगर आप किसी भी कंपनी में नौकरी करते है, तो आपको अच्छा वेतन मिलता है।
  • बिज़नेस फील्ड में अच्छा एक्सपीरियंस प्राप्त करने के बाद आप अपना खुद का स्टार्ट-अप शुरू कर सकते है।
  • एमबीए पूरा होने के बाद आप विभिन्न फील्ड्स जैसे- Finance, Consulting, E-Commerce आदि मे अपना करियर बना सकते है।
  • एमबीए के बाद पीएचडी करके आप किसी अच्छी यूनिवर्सिटी में टीचिंग भी कर सकते है।

एमबीए की सैलरी 

एमबीए की सैलरी इस बात पर निर्भर करती है, कि एमबीए करने के दौरान आपका प्रदर्शन कैसा रहा, आपकी योग्यता और आपने कितना नॉलेज प्राप्त किया साथ ही आपने किस कॉलेज से एमबीए किया है और आपकी किस Company में जॉब लगी है, शुरुआत में आपकी Fresher होने पर सैलरी कम हो सकती है, पर आपके काम में अच्छा प्रदर्शन होने पर आपकी सैलरी बढ़ जाती है।

एमबीए जॉब एमबीए की सैलरी (वार्षिक)
Finance Manager 9 लाख रूपये
Marketing Manager 10 लाख रूपये
Sales Manager 10 लाख रूपये
Human Resources Manager 4 लाख रूपये
Operations Manager 7 लाख रूपये
Product Manager 15 लाख रूपये
Data Analytics Manager 14 लाख रूपये
Project Manager 13 लाख रूपये
Telecom Manager 7 लाख रूपये

MBA करने के बाद करियर विकल्प

एमबीए करने बाद आपको जॉब के लिए बहुत से विकल्प मिल जाते हैं, जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

  • फाइनेंस मैनेजर
  • फाइनेंसियल एडवाइजर
  • आईटी मैनेजर
  • एचआर मैनेजर
  • ऑपरेशन मैनेजर
  • मार्केटिंग मैनेजर
  • बिज़नेस एनालिस्ट
  • बिज़नेस कंसलटेंट

Conclusion

MBA दो साल की एक पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री है, जिसे आप ग्रेजुएशन पूरा होने के बाद कर सकते हैं, इसकी फीस कॉलेज पर निर्भर करती है, कि आपने किस कॉलेज में एडमिशन लिया है, औसतन फीस की अगर बात करें तो यह 2 लाख से 20 लाख तक हो सकती है, एमबीए पूरा करने के बाद आपको इंडस्ट्री में मैनेजर की जॉब मिलती है।

उम्मीद है कि अब आप MBA Kya Hai (एमबीए क्या होता है) एवं mba ki puri jankari जैसे- एमबीए के लिए योग्यता, शुल्क, पाठ्यक्रम की अवधि, एमबीए की पेशकश करने वाले कॉलेजों के लिए आवेदन कैसे करे के बारे में समझ गए होंगे।

आशा करते हैं, कि MBA Kya Hai Hai Hindi Me Jankari आपको पसंद आयी होगी और आपको आपके सभी सवालों के जवाब हमारी इस पोस्ट में मिले होंगे। फिर भी यदि आपके कोई सवाल या सुझाव हो तो, उसे आप हमसे कमेंट के माध्यम बता सकते है। हम आपके सवालों के जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे। पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे शेयर करना ना भूले।

MBA Kya Hai से जुड़े कुछ प्रश्न और उनके जवाब

  • एमबीए कितने साल का होता है?

MBA Course 2 साल का होता है, जिसमें 6-6 महिने के अन्तराल में 4 सेमेस्टर होते हैं.

  • MBA को हिंदी में क्या कहते हैं?

MBA को हिंदी में “व्यवसाय प्रबंधन में स्नातकोत्तर” कहते हैं.

  • MBA के लिए कौन से Entrance Exam देने होते हैं?

सामान्यतया सभी कॉलेजों में MBA Course करने के लिए आपको CAT और GMAT Entrance Exam को देना होता है.

Leave a Comment